संदिग्ध परिस्थितियों में हुई वृद्ध की मौत पुत्री ने लगाया हत्या का आरोप

नवाबगंज थाना क्षेत्र के गांव वीरपुर निवासी मृतक वृद्ध युवक बाबूराम पुत्र द्वारिका प्रसाद 80 वर्ष की बीती रात संदिग्ध परिस्थितियों मैं मौत हो गई जिस पर मृतक की सौतेली पुत्री नवाबगंज थाना क्षेत्र के ही गांव सिर मोरा बांगर निवासी सौतेली पुत्री प्रांसी बृजेश कुमार ने थाने पहुंचकर थाना प्रभारी आरके शर्मा को घटना के बारे में अवगत कराया तथा बताया कि उसके पिता की उनके ही बुआ के लड़के मनोज पुत्र राम अवतार तथा राम बेटी पत्नी राम अवतार के नाम अपनी जायदाद का वसीयतनामा 4 जून 2020 को कर दिया था उसके बाद से ही पिता का पालन पोषण उन पर भारी पड़ने लगा जिसको लेकर बीते शाम पीड़िता के पिता की संदिग्ध परिस्थितियों मौत हो गई लेकिन शाम से लेकर किसी ने पीड़िता को बताना भी उचित नहीं समझा लगभग 8:15 बजे पड़ोसियों द्वारा को सूचना दी गई तब जाकर पीड़िता को जानकारी आनन-फानन में पीड़िता अपने मायके पहुंची तब तक आरोपी गढ़ शवको लेकर अंतिम संस्कार के लिए जा चुके थे जिसकी सूचना पीड़िता प्रांसी देवी नेथाना पुलिस को सूचना दी सूचना पर हलका के दरोगा जितेंद्र कुमार पुलिस बल लेकर घटनास्थल पर पहुंचे तब तक आरोपी गढ़ शव को लेकर जा चुके थे लेकिन थाना पुलिस ने पीछा कर गांव कनाशी के पास जाकर ट्रैक्टर को रोका था शवको पुलिस ने अपने कब्जे में लिया वही मौके पर पहुंचे थाना अध्यक्ष आरके शर्मा लका के दरोगा को पंचनामा की कार्रवाई की गई थाना अध्यक्ष आरके शर्मा ने पीड़िता के आरोपी मनोज कुमार कीफौती तहरीर पर शब का पंचनामा भर करो सब को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया जिसके बाद में पीड़िता प्रांसी देवी ने अपने पिता की आरोपी गढ़ मनोज कुमार रामबेटी के विरुद्ध गला दबाकर हत्या करने तहरीर थानाध्यक्ष को दी लेकिन थानाध्यक्ष ने पीड़िता की तहरीर को वापस कर दिया तब जाकर पीड़िता ने बताया वह अपने न्याय की गुहार जिले के कप्तान से भी लगाएंगे

दीपचंद दीक्षित (संवाददाता)